Sarvapriya Sangwan

My life

Date of Birth

Date of Birth: Confidential

Introduction

हरियाणा के रोहतक ज़िले से हूँ। स्कूल के दिनों में बोलने को कम मिला, देखने को ज़्यादा। शायद वहीँ से पहला सबक मिला। दांतों की डॉक्टर बनी। ठीक-ठीक याद नहीं कि किस घड़ी में फैसला लिया कि पत्रकार बनना है। लेकिन एनडीटीवी के मीडिया इंस्टिट्यूट में आयी और फिर एनडीटीवी ने अपना लिया। साथ-साथ पत्रकारिता की डिग्री ली लेकिन पत्रकारिता की स्कूलिंग रवीश कुमार ने करवाई।

अब कानून की पढाई कर रही हूँ। हो सकता है कि लोगों को लगे कि ये लड़की कंफ्यूज़ है लेकिन ऐसा नहीं है। दरअसल ज़िन्दगी इतनी कम लगती है कि जल्दी से सब कुछ देख-समझ-सीख लेने का मन करता है।
पत्रकारिता में आये 5 साल हो गए हैं और आज सोचती हूँ कि यहाँ आने से पहले मैं कितना सतही सोचती थी। जैसे एक दीवार खड़ी है और बस यहीं तक सब कुछ है। ऐसा सोच लिया तो समझिये 'डेड एंड' आ गया। ना जाने कितने ही लोग आज पुरानी सर्वप्रिया की तरह सोचते होंगे और उस दीवार के पार नहीं देख पाते होंगे। बस, इसी दीवार में छोटी खिड़की बनने की सोच के साथ।

Three Images

Big Image

:)